न फैंका हुआ किसीका न छिना हुआ मिले मुजको मेरे नसीब का लिखा मिले.

Few Good Lines For Everyone 🙂 … Hope you will like it 🙂

तुम अगर कीमती हिरा हो तो रात  मैं मिलो .. धूप में तो .. काच के टुकड़े भी चमक लेते है।

 

ज़मीर बेचने वाले को क्या क्या नहीं मिलता ,मगर ये तय है की उसको खुद नहीं मिलता.

अगर हो दिल में .. ये हसरत निकल के देखो। पलट के आएगा पत्थर उछाल के देखो।
खुद तुम्हारे मसले का हल निकलेगा .. किसा के रास्ते का  कांटा निकल के देखो।

गाव … मिट्टी … क्या क्या दोगे त्याग ? .. दो रोटी के वास्ते इतनी भागमभाग ?!?…

सड़क से लेकर संसद तक .. जुठो का “सम्मान” .. मेरे देश में हो जाती है सच्चा “चालान” .. .

वोचमेंन की लाठियों से मर गया “स्वराज” .. चोरी कर के भाग रहा था मुट्ठी भर आनाज !!!!

अक्सर वोह फेसले मेरे हक़ में गलत हुए। जिन फैसलों के निचे तेरे दस्तखत हुए ..

अबतो लगता है के आया जाएगी बरी मेरी .. उसने देदी तेरे आँखों को सुपारी मेरी ..

ये किसी नाम का नहीं होता .. ये किसी थाम का नही होता
प्यार में अगर जो न टूटे तो ..  दिल किसी काम  का नहीं होता ..

गम की उल्जी हुई लकीरों में .. अपनी तस्वीर देख लेती हु।
आइना देखना तो भूल गई .. तेरीर तस्वीर देख लेती हु।

अपनी आँखों को चार मत करन। तुम सितारिश मत करना
लड़कियों का तरजुरबा है बहोत ..

न फैंका हुआ किसीका न छिना हुआ मिले मुजको मेरे नसीब का लिखा मिले.
रोने का भी सबूत अदालत को चाहिए .. आंसू हमारे गाल  पे ठहरा हुआ मिले।

न तुमसे है .. न खाली  जाम से है .. शिकायत .. गर्दिशे ऐयाम  से है।
तुम्हारी नाम की तारीख होगी .. परेशानी हमारे नाम से है।

सरे  मंज़र बदल गए होंगे .. आप हद से निकल गए होंगे ..
आग इतनी कहा फूलो में .. हाथ शबनम से जल गए होङ्गे।

दिल की किस्मत बदल न पाएगा ..
बन्धनों से निकल न पाएगा
तुज्को दुनिया के साथ चलना है।
तू मेरे साथ चल न पाएगा …

Ketan Raval
Working for Lets Nurture , working on few other things for Lets Nurture Org .. spending free time in blogging, writing, reading, music, watching sports, love to spend time with good people instead of smart people...